शिक्षक दिवस स्पेशल

     शिक्षक दिवस स्पेशल – radhakrishnan

        5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप मे मनाया जाता है।आज ही के दिन 1888 को महान शिक्षाविद सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म हुआ था।
बचपन–: सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म तमिलनाडु के तिरुतनी गांव मे 5 sitambar 1888 को हुआ।राधाकृष्णन को बचपन से ही किताब पढ़ने का बहुत शौक था।उनकी प्रारम्भिक शिक्षा क्रिश्चियन मिशनरी संस्था लुर्थन मिशन स्कूल मे हुई।स्कूल समय मे ही उन्होंने बाइबिल के महत्वपूर्ण अंश यद् कर लिए थे।जिसके लिए उन्हें विशिष्ट सम्मान से सम्मानित किया गया।अपनी collage education उन्होनें मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज से पूरी की।
सर्वपल्ली नाम का कारण-: राधाकृष्णन के पूर्वज सर्वपल्ली नामक गांव मे रहते थे।उसके बाद वो तिरुतनी गांव मे आकर बस गए।सर्वपल्ली गांव से आने के कारण वो अपने नाम के आगे सर्वपल्ली लिखने लगे।
प्रभावित-: राधकृष्णन ने स्वामी विवेकानन्द और वीर सावरकर को पढ़ा और उनके विचारों से प्रभावित हुए।
कार्यक्षेत्र -: उन्होंने देश के तीन विश्विद्यालयों मे अपनी सेवाएं प्रदान की-
1.वाइस चांसलर,आँध्रप्रदेश विश्वविद्यालय(1931-36)
2.चांसलर,बनारस हिन्दू विश्विविद्यालय(1939-48)
3.चांसलर,दिल्ली विश्वविद्यालय(1953-1962)

राष्टपति-: 13 may 1962 को सर्वपल्ली राधाकृष्णन देश के दूसरे राष्टपति बने।
भारत रतन-: राधकृष्णन को 1954 मे भारत के सबसे बड़े नागरिक  सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया।
प्रसिद्ध किताब-:” द रीन ऑफ़ रिलीजन इन केकंटेंपररी फिलॉसफी”
निधन-: 17 अप्रेल 1975 को सर्वपल्ली राधाकृष्णन का निधन हो गया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.