सफलता का रहस्य / Secret of Success in hindi

सफलता का रहस्य / Secret of Success in hindi

 एक बार आश्रम में शिक्षा प्राप्त करने आये एक शिष्य ने अपने गुरु से पूछा ” गुरुदेव सफलता का रहस्य क्या है? कैसे कोई भी व्यक्ति अपने जीवन में सफलता प्राप्त करता है । गुरुदेव सभी व्यक्ति जीवन में सफल होना चाहते हैं पर

कुछ ही लोग अपने जीवन में जो सफलता प्राप्त करना चाहते हैं वो प्राप्त कर पाते है पर अधिकांश लोग असफल हो जाते है। गुरुदेव इस का क्या कारण है कृपया हमें बताएं। गुरुदेव मुशकुराये और अपने शिष्य से बोले बेटा कल रात को में इस सवाल का जवाब दूँगा।

सफलता का रहस्य / Secret of Success in hindi

              दूसरे दिन जब सुबह हुई तो गुरुदेव ने सभी शिष्यों को कार्य देना प्रारम्भ किया कि आज कौन शिष्य कौन सा कार्य करेगा । जिस शिष्य ने कल “,सफलता का रहस्य पूछा था” उससे गुरुदेव ने कहा कि वत्स आज तुम आश्रम के लिए लकड़ी काट कर लाओगे। शिष्य ने बोला ” जैसी आपकी आज्ञा गुरुदेव ।”

    इस प्रकार वह शिष्य कुल्हाड़ी लेकर लकड़ी काटने के लिए चल पड़ा जंगल में उसे  एक पेड़ दिखाई दिया जिस पर काफी सारी लकड़ी थी जिनका उपयोग आश्रम में किया जा सकता था । तो वह उस पेड़ पर चढ़ गया और लकड़ी काटने लगा काटते काटते वह पेड़ के काफी ऊंचाई पर जा चूका था। उसने देखा की वह जिस डाल पर बैठा उसी डाल पर एक साँप उसकी और चला आ रहा है। यह देख वह काफी डर गया और उसने पेड़ के काफी ऊँचाई से जमीन पर छलाँग लगा दी। वह जमीन पर आकर गिरा उसको काफी चोट आई पर वह फिर भी खुश था क्योंकि उसकी जान बच गई थी।

सफलता का रहस्य / Secret of Success in hindi

     जैसे तैसे कर कर वह आश्रम पहुँच रात हो चुकी थी जैसे ही उसने आश्रम में प्रेवेश किया उसे सामने गुरुदेव मुसुकुराते हुए दिखाई दिए। उसे समझ नही आ रहा था कि उसको इतनी चोट लगी है फिर भी गुरुदेव मुस्कुरा क्यों रहे हैं। जब उससे और न रहा गया तो उसने कहा ” गुरुदेव आप मेरी ऐसी हालत देखकर मुस्कुरा क्यों रहे हैं।”

      गुरुदेव ने कहा ” बेटा कल तुमने मुझे से एक सवाल पूछा था कि सफलता का क्या रहस्य है , तो बेटा आज जो तुमने किया वही सफलता का रहस्य है जब तुम ऊँचाई पर थे और तुमने सामने से साँप को आते देख इतनी ऊंचाई से छलांग लगा दी क्योंकि तुम्हे अपनी जिंदगी बहुत प्यारी है और उसे बचाने के लिए तुम कुछ भी कर सकते हो जिस दिन तुम जिस कार्य में सफल होना है उसे अपनी जिंदगी जितना प्यार करने लगोगे उस दिन तुम्हें सफल होने से कोई नही रोक सकता। तुमने दूसरा सवाल पूछा था कि अधिकांश लोग असफल क्यों हो जाते है उसका उत्तर भी यही है क्योंकी वो लोग सफल होना चाहते हैं पर उनके लिए सफलता अपनी जिंदगी जितनी प्यारी नही है वो उससे पाने के लिए उतना प्रयास नही करते जितना कभी जिंदगी मुशीबत में पड़ने पर उसे बचाने के लिए करेंगे अर्थात वो अपनी पूरी लगन से उस कार्य को नही करते इसलिए वो असफल हो जाते हैं। और एक सफल व्यक्ति सफलता प्राप्त करने के लिए अपना पूरा ध्यान और पूरी शक्ति उस कार्य को करने में लगा देता है अतैव उसे सफलता मिलना निश्चित है। और हाँ आज जो साँप पेड़ पर आया था उसे मैंने ही वहाँ छोड़ा था ताकि तुम्हरे सवाल का उत्तर तुमको सही प्रकार से समझा सकूँ।”

   शिष्य , गुरुदेव के चरणों में गिर गया आज उसे सफलता का असली रहस्य पता चल गया था । गुरुदेव के चेहरे पर हल्की मुस्कान थी और शिष्य के चेहरे पर उत्तर से सन्तुष्ट होने के भाव दिखाई दे रहे थे।
                           
       
 
Moral of story :-

” सफलता को जब आप उतना ही जरूरी समझने लगो जितनी की अपनी जिंदगी को समझते हो तो आपको सफल होने से क्यों नही रोक सकता।”
             
                                  Write by @gaurav rajput

     सफलता का रहस्य / secret of Success ये story आपको पसंद आयी हो तो अपने दोस्तों के साथ share जरूर करें।

    यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:[email protected]पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

Leave a Comment

Your email address will not be published.