hindi poem shayad tumko pta nhi

Shayad tumko pta nhi hindi poem मेरे द्वारा रचित एक मोटिवेशनल कविता है। नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है हमारी वेबसाइट inhindistory. com पर

woman, beach, jump-332278.jpg
शायद तुम को पता नही

शायद तुम को पता नही…..

जब युद्ध समरभूमि में होता है….

सिर्फ कायर ही घबराते हैं…..

सूरवीर भिड़ जाते हैं …..

शायद तुमको पता नहीं…😊

जो सदा निराशा में जीते हैं….

वो कायर ही तो होते हैं…..

जो घोर निराशा में भी….

उम्मीदों की कुछ अलग ही अलख जागते हैं…

..वो लोग ही विजेता कहलाते हैं।

शायद तुम को पता नही….

कुछ …लोग जीवन मे आते हैं ..

कुछ लोग जीवन से जाते हैं….

पर कुछ लोग ऐसे भी होते हैं …..☺️

जो दिल मे ही बस जाते हैं…..

शायद तुमको पता नही🥰🥰

to be continue……

Leave a Reply

Your email address will not be published.