Swami vivekanand 1 best motivational story in hindi

 

Swami vivekanand 1-  motivational story in hindi

दोस्तों आप हो hindi motivational story website inhindistory.com पर आप सभी स्वामी Vivekanand के बारे में जानते ही हो हमारे देश के अग्रणी महापुरुषों मे स्वामी जी का नाम आता है।

उनके शिकागो मे दिए भाषण को हमेशा याद की जायेगा स्वामी विवेकानन्द युवा के रोल मॉडल है और मेरे भी मैं inhindistory पर उनके जीवन की सभी रोचक कहानियां पोस्ट की जाएंगी ।

आज कृपया सभी पोस्ट पढ़े आज स्वामी विवेकानन्द के जीवन की बहुत ही मोटिवेशनल स्टोरी     Swami vivekanand 1-  motivational story in hindi   share कर रहा हूँ

 

 

 भागो मत
 
 
Swami vivekanand 1- motivational story in hindi
 

एक बार स्वामी विवेकानन्द एक मंदिर मे पूजा करने के लिए जाते हैं पूजा कर के मंदिर से लौटने लगते हैं तो कुछ बन्दर उन्हें घेर लेते हैं स्वामी विवेकानंद आगे की और बढ़ने लगते है तो बन्दर भी उन पीछे दौड़ने लगते हैं ।

स्वामी विवेकानंद भी भागने की सोचते है पर वहाँ का पुजारी चिल्लाकर बोलता है स्वामी विवेकानंद से की भागो मत खड़े रहो स्वामी विवेकानन्द पुजारी की बात सुनकर खड़े हो जाते हैं ।

और बन्दरों को देखने लगते है अब बंदर जो स्वामी विवेकानंद के पीछे दौड़ रहे थे खड़े हो जाते हैं स्वामी विवेकानंद को निडर खड़े देखकर सभी बन्दर एक एक कर भाग जाते हैं उस दिन विवेकानन्द को बहुत बड़ी सीख मिली जो उन्हों ने अपनी किताब मे भी लिखी की जीवन की जो परेशानियां होती हैं ।

वो उन बन्दर के समान होती है यदि भागोगे तो और पीछे आयेगी तो भागो मत खड़े रहो।
दोस्तों स्टोरी छोटी है लेकिन बहुत बड़ी सीख़ देती है नॉर्मली हमारी जिंदगी मे ऐसा होता है कि हम हमेशा परेशानियों से दूर भागते और परेशानी ह
हमारा पीछा करती हैं फिर हम बोलते हैं ।

यार मेरी लाइफ मे बहुत परेशानी भाई परेशानी कुछ नही है बस जब तक है जब तक की हम उससे भाग रहे हैं बस एक बार खड़े हो जाइये फिर देखो चमत्कार चलो हम एक example से समझते हैं
मानलो दो बन्दे हैं A aur B दोनों को एक टेस्ट देना है test के लिए 4 दिन का time दिया 8 टॉपिक जिनमें से question पूछे जायेंगे अब दोनों पड़ना start करते हैं बन्दा B सोचता है।

यार आज थोड़ी मस्ती करता हु 8 टॉपिक हैं बचे 3 दिन मे पढ़ लूँगा पर जो बन्दा A है वो उसी टाइम से पढ़ाई start कर देता है next day बन्दा B सोचता है यार कल से दो दिन जमकर पढ़ाई करूँगा ।

आज और मस्ती कर लेता हूँ पर A उस दिन भी पढ़ाई करता हैं 3rd day बन्दा B book खोलता है पर जब टॉपिक देखता है।

तो होश उड़ जाते हैं यार इतने बड़े टॉपिक दो दिन मे कैसे होंगे यार नही हो सकते इतना सारा उस दिन A पढ़ाई करता है इस तरह टेस्ट का दिन आता है नॉर्मली आप सब तो समझ ही गये होंगे की कौन पास होगा और कौन फ़ैल?
अब हम स्वामी विवेकानन्द की थ्योरी के अनुसार समझते हैं A aur B के लिए समस्या common थी पर B उससे भागने की कोशिश करता है और समस्या   इतनी बढ़ जाती है कि वह हार मान लेता है ।

और बिना कुछ करे ही हार जाता है अब बात करते हैं A की वह भागता नहीं सामना करता है इसलिए उसे कोई समस्या ही नही लगती क्योंकि वो भागा नहीं so freind अंत मे इतना ही कहूंगा आज से ही भागना छोड़िये बस खड़े हो जाइये फिर देखिये result………@गौरव राजपूत
यदि पोस्ट पसंद आये तो twiter, गूगल+,pinterest, fb पर जरूर share करें  ।

1 thought on “Swami vivekanand 1 best motivational story in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.