Inspirational stories in hindi

         Inspirational stories in hindi

                            Happy

ट्रेन की खिड़की से बाहर देखा एक 24 साल का लड़का चिल्लाया …

“पिताजी, देखो पेड़ पीछे जा रहे हैं!”

पिताजी मुस्कुराए और पास में बैठे एक युवा जोड़े ने 24 साल के बच्चे के दयालु व्यवहार को देखा, अचानक वह फिर से उत्तेजित हो गया ..
.

Hindi stories, hindi story for kids

“पिताजी, देखो बादल हमारे साथ चल रहे हैं!”

दंपति ने विरोध नहीं किया और बूढ़े व्यक्ति से कहा …

“आप अपने बेटे को एक अच्छे डॉक्टर के पास क्यों नहीं ले जाते?” बूढ़ा व्यक्ति मुस्कुराया और कहा … “मैंने ऐसा ही किया और हम अभी अस्पताल से आ रहे हैं, मेरा बेटा जन्म से अंधा था, उसे आज ही अपनी आंखें मिली हैं।”

ग हर एक व्यक्ति की एक अपनी कहानी है। इस कहानी को जाने बिना हमें उस व्यक्ति के बारे में पूर्व धारणा नही बनाना चाहिए।

Moral of story :-
 जो हमारे लिए साधारण हो वो किसी के लिए स्पेशल हो सकता है।

                मुसीबत आये तो छलांग लगाओ

एक आदमी का  गधा एक गहरे  गड्ढे में वेग से गिर जाता है। चूँकि गधा बूढ़ा हो चूका था । उसका गड्ढे से निकलना न मुमकिन था। इसलिए वह आदमी  उस गधे को  जिंदा दफनाने का फैसला करता है।

Hindi stories , story in hindi for kids
ऊपर से गधे पर मिट्टी डाली जाती है। गधा भार महसूस करता है, उसे हिलाता है, और छलांग मारकर उस पर कदम रखता है। अधिक मिट्टी डाली जाती है।
गधा  अपनी पीठ  हिलाता है  छलाँग मरताऔर कदम बढ़ाता है। जितना अधिक मिट्टी डाली जाती है हर बार गधा छलांग लगाकर उस मिटटी की ऊपर आ जाता है । गड्डा धीरे धीरे बढ़ता जा रहा था और गधा छलाँग लगाते जा रहा था। गधे ने अंतिम बार छलाँग लगाई और अंततः गधा गड्ढे से बहार या गया।
Moral of story :-  जब आपके जीवन में कोई समस्या आये तो आप भी छलाँग लगाये और आप पायेगें कि आप समस्याओं से बाहर आ गए।

ये पॉपुलर कहानियाँ भी पढ़े

1. सोच
2.कोरा ज्ञान
3.पाँच बातें
4.two moral stories
5. Story in hindi एक बूढ़ा


story in hindi.

         

Inspirational stories in hindi.. पसंद आई हो । तो शेयर जरूर करे । यदि आपके पास भी ऐसी hindi story with moral , motivational आर्टिकल हो तो हमें [email protected] पर भेजे हम आपके नाम और फोटो के साथ publish करेंगे। धन्यवाद !

   

       

Leave a Reply

Your email address will not be published.